स्वादिष्ट व पौष्टिक सिसूण का सूप - Nettle Grass Soup

सिसूण का सूप बनाने की रेसिपी, Recipe of Nettle grass soup in hindi, Kumaoni Recipe,kumauni food,Sisaun ka soup

स्वादिष्ट व पौष्टिक सिसुणे का सूप (Neettle Grass Soup)

कुमाऊँनी खान-पान की रेसिपी

सिसुणा, सिसूंण, सिसौंण, कंडाली और बिच्छू घास जैसे विभिन्न नामों से जानी जाने वाली वनस्पति के बारे में पहाड़ों में सभी परिचित हैं।  हमारे बचपन में इसके कोमल महीन काँटों की चुभन किसी दुसरे को लगने पर आनंद और अगर कभी अपने को दंड के रूप में मिलती तो खौफ पैदा करती थी।  वास्तव में यह हमारे पहाड़ी क्षेत्र की बहुपयोगी जंगली वनस्पति उपज भी है।  खाने में उपयोग हेतु  भोजन में सिसुणे का साग और सिसुणे का कापा हमारे पहाड़ी क्षेत्रों में विभिन्न तरह से बनाया और खाया जाता रहा है।  

लेकिन अब पहाड़ो पर नगरीकरण तथा लोगों के दैनिक जनजीवन में आये बदलाव के कारण पहले भोजन का हिस्सा रहा सिसुणा अब भोजन थाल से गायब सा हो गया है।  फिर भी सोशल मीडिया पर इसके पौष्टिक और औषधीय गुणों के प्रचार के कारण कुछ लोगों द्वारा दोबारा से इसे भोजन में शामिल करने की कोशिश की जा रही है।  अगर आप कुछ अलग ट्राय करना चाहते हैं तो सिसुणे /सिसूण/कंडाली की कोमल पत्तियों से इसका स्वादिष्ट और पौष्टिक सूप भी भी तैयार किया जा सकता है:-

सिसूण का सूप क्या है(What is Nettle grass soup)?

सिसुणे का सूप सिसूण (बिच्छू घास) की कोमल पत्तियों से तैयार किया जाता है। इसको बनाने और पीने के लिए मार्च से मई के शुरू का समय सबसे उत्तम रहता है क्योंकि इन दिनों सिसुणे की झाड़ियों में नयी पल्लवित कोमल पत्तियां निकलती हैं जो इसकी सब्जी या कोई अन्य व्यंजन बनाने के लिए सबसे उत्तम होती हैं।

सिसुणे का सूप हमारे पहाड़ी इलाकों तो उतना प्रचलन में नहीं है नहीं है पर नेपाल, भूटान, ईरान, आयरलैंड, पूर्वी यूरोप और स्केंडिनेवियाई देशों में इसका सेवन बहुत लोकप्रिय है।  अंग्रेजी में इसे नेटल सूप (Nettle Soup) के नाम से जाना जाता है।  इसे बनाने की रेसिपी और इसमें डाले जाने वाले इंग्रेडिएंट्स विभिन्न स्थानों पर भिन्न-भिन्न लोगों की पसंद के अनुसार बदलते रहते हैं।  विशेषज्ञों के अनुसार सिसुणे के सूप में आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम, फास्फोरस, सोडियम के साथ विटामिन ए, बी, सी, डी और के प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।
सिसूण का सूप बनाने की रेसिपी, Recipe of Nettle grass soup in hindi, Kumaoni Recipe,kumauni food,Sisaun ka soup

सिसूण के सूप के लिए सामग्री:

ताजा सिसुणे की पत्तियाँ (नए तनों मैं से ऊपर की 5-6 पत्तियाँ ही लें)
बारीक कटा प्याज
बारीक कटे कुछ आलू
बारीक कटी गाजर
महीन कटा टमाटर या टोमेटो प्यूरी
मसाले (पसंद के अनुसार)
सूप के लिए कोई विशेष मसाला नहीं हैं, हमारे पहाड़ में विभिन्न मसाले मिलकर बनाया जाने वाला नमक ही इसका मसाला होता है आप अपनी पसंद के अनुसार सिलबट्टे में या मिक्सी में लहसुन/काली मिर्च/हरी मिर्च/धनियां/भांग के बीज/पुदीना वाले नमक का मसाला बना सकते हैं।
सभी की मात्रा आप आवश्यकता और अंदाजे से ले सकते हैं।

सिसूण के सूप बनाने की विधि (Recipe for Nettle grass soup):-

सिसुणे का सूप घर में उपलब्ध मसालों से बहुत कम समय में इसे तैयार किया जा सकता है, एक चौड़े भगौने में थोड़ा सा मक्खन/देशी घी या रिफाइंड ऑयल  को गरम करे।  अब इसमें बारीक कटे हुए प्याज डालकर थोड़ी देर भूनें जैसे ही प्याज थोड़ा मुलायम इसमें  महीन कटे टमाटर या टोमेटो प्यूरी डालकर थोड़ी देर हिलाएं।  जैसे ही दोनों अच्छी तरह मिक्स हो जाएं इसमें  महीन कटे आलू, गाजर और हरा प्याज भी इसमें डालकर २-३ मिनट छोड़ दें।   जैसे ही सब्जियों थोड़ी मुलायम हों इसमें सूप के लिए तैयार मसाला डालकर एक बार अच्छी तरह मिला लें।  

अब इसमें पानी डालकर सब्जियों के 5 मिनट तक पकने के बाद उसमें सिसुणे की पत्तियाँ डालकर अच्छी तरह मिलाकर बर्तन में ढक्कन लगा दें और 10 मिनट तक मध्यम आंच में पकने दें।  कुछ लोग इसमें पानी डालते समय साथ में कॉर्न फ्लोर का घोल भी मिलाते हैं, आप भी अपनी पसंद से ट्राय कर सकते हैं।अब आंच बंद करके इसका ढक्कन निकलकर इसे हैंड ब्लेंडर से ब्लेंड कर लें और फिर आंच पर रखकर 1 उबाल आने दें।  अच्छी तरह से ब्लेंड हो जाने पर सूप को छानने की जरुरत नहीं होगी लेकिन अगर आपको एकदम फाइन सूप चाहिए तो इसे किसी मोती छन्नी से छान लें।  इससे सूप को पीने में आपको सिसुणे के रेशे का फील नहीं आएगा।  नमक और मसाला आप सूप के पकने से पहले या बाद में अपनी पसंद के अनुसार डाल सकते हैं। 

सिसुणे के सूप को सर्विंग बाउल में डालकर ऊपर से थोड़ा क्रीम डालकर सर्व कर सकते हैं।  चाहें तो सूखी हुई सिसूण की पत्तियों से सजाकर या फिर पुदीने की पत्तियों से गार्निश कर स्वाद ले सकते हैं।  यह सब वस्तुओं की उपलब्धता और आपकी पसन्द पर निर्भर करता है।

फोटो के Dreamstime पोर्टल सौजन्य से
वीडियो Roopak Production यूट्यूब चैनल के सौजन्य से

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ